mri-scan-in-hindi

भारत में एमआरआई स्कैन के बारे में जाने। MRI Scan in Hindi Updated 2019

 एमआरआई क्या है?/ What is MRI Test ?

चुंबकीय अनुनाद इमेजिंग (एमआरआई) MRI  एक ऐसा परीक्षण है जो अत्यनत शक्तिशाली मैग्नेट, रेडियो तरंगों और एक कंप्यूटर का उपयोग करता है, जिससे आपके शरीर के भीतर के विस्तृत चित्र का पता चलता है।

आपका डॉक्टर इस परीक्षण का इस्तेमाल आपके निदान के लिए कर सकता है या यह देख सकता है कि आपने इलाज के बारे में कितनी प्रतिक्रिया दी जाये। एमआरआई  एक्स-रे और सीटी स्कैन के विपरीत, एमआरआई विकिरण (Radiation) का उपयोग कभी नहीं करता है।

 

आप एमआरआई क्यों प्राप्त करेंगे?

एक MRI एक डॉक्टर को किसी बीमारी या चोट का निदान करने में मदद करता है, और यह देख सकता है कि आप उपचार के साथ कितनी अच्छी तरह कर रहे हैं। एमआरआई परिक्षण आपके शरीर के अलग-अलग भागों पर किया जा सकता है।

मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी का एमआरआई निम्नलिखित चीजों के बारे में पता करने के लिए प्रयोग किया जाता है:

  • रक्त वाहिका क्षति
  • दिमाग की चोट
  • कैंसर
  • मल्टीपल स्क्लेरोसिस
  • रीड़ की हड्डी में चोटें
  • आघात

दिल और रक्त वाहिकाओं (Blood Vessels) का एमआरआई निम्नलिखित चीजों के बारे में पता करने के लिए प्रयोग किया जाता है:

  • अवरुद्ध रक्त वाहिकाओं
  • दिल का दौरा पड़ने के कारण नुकसान
  • दिल की बीमारी
  • दिल की संरचना के साथ समस्याएं

हड्डियों और जोड़ों का एमआरआई एमआरआई निम्नलिखित चीजों के बारे में पता करने के लिए प्रयोग किया जाता है:

  • हड्डी में संक्रमण
  • कैंसर
  • जोड़ों को नुकसान
  • रीढ़ की हड्डी में डिस्क की समस्याएं

इन अंगों के स्वास्थ्य की जांच के लिए भी एमआरआई का प्रयोग किया जा सकता है:

  • स्तन (महिला)
  • जिगर
  • गुर्दे
  • अंडाशय (महिला)
  • अग्न्याशय
  • प्रोस्टेट (पुरुष)

कार्यात्मक एमआरआई (FMRI) क्या है ?

एक विशेष प्रकार की एमआरआई को कार्यात्मक एमआरआई (एफएमआरआई) कहा जाता है, जिसका उपयोग मस्तिष्क कि गतिविधिओं को देखने के लिए किया जाता है।

यह परीक्षण आपके मस्तिष्क के रक्त प्रवाह को देखता है कि आपके कार्य करते समय कौन से क्षेत्र सक्रिय हो जाते हैं। एक एफएमआरआई मस्तिष्क की समस्याओं का पता लगा सकता है, जैसे कि स्ट्रोक के प्रभाव, या मस्तिष्क मानचित्रण के लिए यदि आपको मिर्गी या ट्यूमर के लिए मस्तिष्क की सर्जरी की आवश्यकता होती है आपका चिकित्सक इस परीक्षण का इस्तेमाल अपने उपचार की प्रक्रिया के लिए कर सकता है।

एमआरआई के लिए कैसे तैयार हों ?

अपने एमआरआई से पहले, अपने चिकित्सक को अवस्य बताएं कि क्या आप:

  • किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हैं, जैसे कि किडनी या यकृत रोग
  • आपकी हाल ही में सर्जरी हुई थी
  • भोजन या दवा के लिए कोई एलर्जी हो, या यदि आपको दमा है
  • गर्भवती हो, या गर्भवती हो सकती है

MRI कमरे के अंदर किसी भी तरह की धातु की अनुमति नहीं होती है, क्योंकि मशीन में चुंबकीय क्षेत्र धातु को आकर्षित कर सकते हैं। अपने चिकित्सक को बताएं कि क्या आपके पास कोई धातु-आधारित उपकरण हैं जो परीक्षण के दौरान समस्याएं पैदा कर सकते हैं। इसमें शामिल हो सकते हैं:

  • कृत्रिम हृदय वाल्व
  • शरीर भेदन
  • कर्णावर्त तंत्रिका का प्रत्यारोपण
  • ड्रग पंप
  • फ़िलिंग और अन्य दंत काम
  • प्रत्यारोपित तंत्रिका उत्तेजक
  • इंसुलिन पंप (Insulin Pump)
  • धातु के छोटे टुकड़े, जैसे बुलेट
  • धातु जोड़ों या कोई अंग जिसमे धातु मौजूद हो
  • पेसमेकर या इम्प्लाएटेबल कार्डियोवायर-डिफ़िब्रिलेटर (आईसीडी)
  • लोहे कि पिंस या शिकंजा

यदि आपके टैटू हैं, तो अपने डॉक्टर से बात करें। कुछ स्याही में धातु होते हैं|

परीक्षा के दिन, ढीले, आरामदायक कपड़े पहनें जो स्नैप या अन्य धातु फास्टनरों के पास नहीं होते हैं। आपको परीक्षण के दौरान अपना खुद का कपड़े लेने और गाउन पहनना पड़ सकता है।

एमआरआई कमरे में जाने से पहले इन सभी चीजों को अपने शरीर से अलग कर दीजिये :

  • सेल फोन
  • सिक्के
  • डेन्चर
  • चश्मा
  • कान की मशीन
  • चांबियाँ
  • घड़ी
  • विग

यदि आपको एमआरआई का वह स्थान बिलकुल पसंद नहीं है या आप परीक्षण को लेकर बहुत परेशान हैं, तो अपने डॉक्टर को बताएं| आप परीक्षण से पहले हैं आराम करने के लिए  दवा प्राप्त कर सकते हैं या ओपन एमआरआई करवा सकते हैं |

एम् आर आई उपकरण कैसा दिखता है?

hindi-mein-mri-test

एक विशिष्ट एमआरआई मशीन दोनों छोर पर एक छेद के साथ एक बड़ी नली होती है । एक चुंबक ट्यूब के चारों ओर से घेरे रहता हैं|

एक लघु-बोर सिस्टम में, आप पूरी तरह एमआरआई मशीन के अंदर नहीं रहते  हैं। शरीर के जिस हिस्से का स्कैन किया जा रहा है केवल वही अंदर रहता है,  बाकी भाग मशीन के बाहर ही रहता है।

एक खुला एमआरआई सभी पक्षों पर खुला है। इस प्रकार की मशीन सबसे अच्छा हो सकती है यदि आपके पास क्लॉस्ट्रोबोबिया है – तंग जगहों का डर – या आप बहुत अधिक वजन वाले हैं कुछ खुली एमआरआई मशीनों की छवियों की गुणवत्ता उतनी ही अच्छी नहीं है, जितनी कि यह बंद एमआरआई के साथ है।

टेस्ट के दौरान क्या होता है?

कुछ MRI से पहले, आपको अपने बांह या हाथ में एक नस में कंट्रास्ट रंग मिल जाता है| यह डाई डॉक्टर को और अधिक स्पष्ट रूप से आपके शरीर के अंदर संरचनाओं को देखने में मदद करता है। अक्सर एमआरआई में इस्तेमाल होने वाली डाई को गदोलिनियम कहा जाता है| यह आपके मुंह में एक धातु का स्वाद छोड़ देता है|

आप एक मेज पर बैठेंगे जो एमआरआई (MRI) मशीन में स्लाइड करती है । परीक्षण के दौरान पट्टियां आपको सही तरीके से पकड़ने के लिए इस्तेमाल की जा सकती हैं| आपका पूरा शरीर मशीन के अंदर भी हो सकता है, या आपके शरीर का एक हिस्सा मशीन के बाहर भी रह सकता है।

एमआरआई मशीन आपके शरीर के अंदर एक मजबूत चुंबकीय क्षेत्र बनाता है। एक कंप्यूटर एमआरआई से संकेत लेता है और चित्रों की एक श्रृंखला बनाने के लिए उनका उपयोग करता है। प्रत्येक चित्र आपके शरीर का एक पतला टुकड़ा (slice) दिखाता है|

एमआरआई परीक्षण के दौरान आपको तेजी से ध्वनि सुनाई देती हैं। ध्वनि सुनने के लिए आप कानप्लग या हेडफ़ोन (HeadPhone) का उपयोग कर सकते हैं।

आप परीक्षण के दौरान एक छोटी सी सनसनी महसूस कर सकते हैं ऐसा होता है जैसे एमआरआई आपके शरीर में नसों को उत्तेजित करता है। यह सामान्य है, और इसके बारे में चिंता करने की कोई बात नहीं

एमआरआई स्कैन को 20 से 90 मिनट के बीच लेना चाहिए।

 

किसे एमआरआई नहीं करना चाहिए?

गर्भवती महिलाओं को अपने पहले त्रैमासिक  के दौरान MRI नहीं करवाना चाहिए, जब तक कि उन्हें पूरी तरह से परीक्षण की ज़रूरत न महसूस हो। पहला त्रिमूर्ति तब होता है जब बच्चे के अंग विकसित होते हैं। जब आप गर्भवती हों तो आपको विपरीत (Contrast) रंगों नहीं लेना चाहिए|

यदि आपको कंट्रास्ट डाई (Contrast Dye) से एलर्जी है या आपके पास गुर्दा की गंभीर बीमारी है, तो इसके विपरीत डाई को मत प्रयोग करें|

वो लोग जिनके शरीर के अंदर धातु वाली चीजें होती हैं इस परीक्षण को नहीं प्राप्त कर सकते हैं, जिनमें निम्न शामिल हैं:

  • पेसमेकर और कार्डियक डिफ़िब्रिलेटर
  • कर्णावर्त तंत्रिका का प्रत्यारोपण (Cochlear implants)
  • रक्त वाहिकाओं (Blood Vessels) में कुछ धातु का तार रखा गया है

आपके परिणाम

एक विशेष रूप से प्रशिक्षित चिकित्सक जिसे एक रेडियोोलॉजिस्ट कहा जाता है वह आपके एमआरआई के परिणाम पढ़ेगा और आपको उससे सम्भंदित जानकारिया देगा |

सर्वाइकल एमआरआई के बारे में जानने के लिए यहाँ क्लिक करें ।

चेस्ट एमआरआई के बारे में जानने के लिए यहाँ क्लिक करें ।

Leave a Comment